IMPS क्या है ? और इसके द्वारा पैसे ट्रान्सफर कैसे किये जाते है?

IMPS क्या है ? और इसके द्वारा पैसे ट्रान्सफर कैसे किये जाते है?         

IMMEDIATE PAYMENT SERVICE (IMPS)

तुरंत भुगतान सेवा

अंतर बैंक मोबाइल भुगतान सेवा (आईएमपीएस)

इसके द्वारा आप सिर्फ मोबाइल नंबर और सात अंकों के MMID नंबर की सहायता से धन मंगवा या भेज सकते हैं।

इसके और भी बहुत से फायदे हैं। जैसे –

  1. receiver को रजिस्टर/पंजीकृत करने की कोई आवश्यकता नहीं।
  2. धन का Transfer/अंतरण तुंरत होता है तुरंत लाभार्थी के खाते में धन जमा हो जाता है। और आपको मेसेज प्राप्त होता है.
  3. IMPS/आईएमपीएस सेवा से केवल मोबाइल बैंकिंग ग्राहक(Mobile Banking holder) ही धन भेज सकते हैं, किंतु धन receive/प्राप्त करने के लिए सभी ग्राहक इस सेवा का उपयोग कर सकते हैं।
  4. ये सेवा सप्ताह में सातों दिन चालू रहती है और 24 घंटे उपलब्ध रहती है. (24*7) जबकि NEFT/RTGS में ऐसा नहीं होता.

MMID/एमएमआईडी नंबर कैसे प्राप्त करें?

मोबाईल बैंकिंग के सभी ग्राहकों को उनके खाते के लिए सात अंकीय एमएमआईडी नंबंर (7 digit MMID code) दिया जाता है। ये code आप खुद generate भी कर सकते है.

 

यदि आप मोबाइल बैंकिंग सेवा पर रजिस्टर्ड/पंजीकृत नहीं हो तो आप अपने एटीएम कार्ड से जुडे मूल खाते का एमएमआईडी नंबर लेने के लिए एटीएम पर अपना मोबाइल नंबर Register/पंजीकृत करवा सकते हैं।

प्रोसेस :-

अपना डेबिट कार्ड स्वाइप करें > ‘मोबाइल रजिस्ट्रेशन’ का चयन करें -> एटीएम ‘पिन’ डालें -> ‘एसएमएस’ / ‘IMPS’ का चयन करें -> अपना मोबाइल नंबर -> कनफर्म करें।

जिन ग्राहकों के पास एटीएम कार्ड नहीं हो या जिनके multiple खाते हों वे शाखा में जाकर MMID के लिए फार्म भरकर आवेदन कर सकते है.

प्रक्रिया पूरी होने के बाद, सात अंकीय एमएमआईडी नंबर, मोबाइल में SMS द्वारा भेजा जाता है.

IMPS की ट्रान्सफर लिमिट 

  • एक बार में अधिकतम 50,000/-
  • पुरे दिन में अधिकतम 1,00,000/-

अधिक जानकारी के लिए तथा  पुरे प्रोसेस को step-by-step देखने के लिए ये  विडियो देखें (click here)

 

Please follow and like us: Click below icon

Digital banking in India [डिजिटल बैंकिंग क्या है ? सीखें हिंदी में ]

नोटबंदी के बाद से ही इंडिया में डिजिटल बैंकिंग का प्रचार-प्रसार बढ़ा है | देश में नोटबंदी के समय से ही कैश की कमी के चलते लोगों ने डिजिटल बैंकिंग शुरु की सभी ने इसको सीखा और इसको बढ़ावा दिया | आज के युग में सभी डिजिटल बैंकिंग की बात करते हैं लेकिन अभी भी … Read more